मोदी ने रमन सिंह की पीठ थपथपाई , नहीं बदलेगा मुख्यमंत्री

भिलाई जून १४ ( बिग वायर ) इस्पात नगरी भिलाई में आयोजित रैली में प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह की पीठ थपथपाई.

मोदी ने जिस अंदाज में रमन सिंह की तारीफ के कसीदे पढ़े उससे यह शंका साफ हो गई कि छत्तीसगढ़ में कोई नेतृत्व परिवर्तन होने वाला है.

प्रधानमंत्री ने रमन सिंह को अपना मित्र , अपनी जनता के लिए सदैव तत्पर रहने वाला नेता, विकास के लिए बेहद आग्रही और अपने दायित्व के प्रति पूरी तरह सजग रहने वाला नेता बताया.

प्रधानमंत्री ने आज अगले चुनाव में रमन सिंह के लिए रास्ता आसान बनाने वाली परियोजनाओं की झड़ी लगा दी.

लगभग 22000 करोड़ रुपए के निवेश वाली इन योजनाओं में भिलाई इस्पात कारखाना का विस्तारीकरण, भिलाई में मैं IIT का की स्थापना जगदलपुर से 1700 रुपये में हवाई यात्रा का शुभारंभ, नया रायपुर में स्मार्ट सिटी की वस्थापना और छत्तीसगढ़ के पूरे 6000 पंचायतों को इंटरनेट से जोड़ने की घोषणा शामिल है.

इस वर्ष के अंत तक छत्तीसगढ़ं, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत पांच प्रमुख प्रदेशों में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं. यह माना जा रहा था कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में 14 वर्ष से 1 ही मुख्यमंत्री होने के कारण जनता में उदासीनता आ गई है.

भाजपा के अंदर से ही मुख्यमंत्री रमन सिंह को बदलने की मांग उठ रही थी लेकिन प्रधानमंत्री के आज के भाषण के बाद इस कयास पर पूर्ण विराम लग गया कि भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ में कोई नेतृत्व परिवर्तन करने वाली है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रायपुर से लगभग 50 किलोमीटर दूर इस्पात नगरी भिलाई में 1 महीने की विकास यात्रा के समापन पर जनसभा को संबोधित करने आए थे.

प्रधानमंत्री मोदी सुबह 10:30 बजे वायु सेना के विशेष विमान से रायपुर पहुंचे, वहां उन्होंने एक विशेष सूचना प्रौद्योगिकी कक्ष का उद्घाटन जहां से ट्रैफिक कंट्रोल पब्लिक कम्युनिकेशन और सभी प्रकार की सूचनाएं एक साथ प्राप्त की जा सकती हैं प्रधानमंत्री ने नया रायपुर के लिए स्थापित इस कक्ष को स्मार्ट सिटी का एक मॉडल बताया.

उसके बाद हेलीकॉप्टर के जरिए लगभग 1 2:00 बजे वह भिलाई पहुंचे. उन्होंने भिलाई संयंत्र की उत्पादन क्षमता बढ़ाने वाले विशेष परिसर का उद्घाटन किया.

बाद में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने पिलाई संयंत्र की तारीफ करते हुए कहा कि हिंदुस्तान भर में रेल लाइन बिछाने के लिए जितनी पटरियों की आवश्यकता होती है उसका 70% से अधिक भिलाई संयंत्र उत्पादन करता है.

स्टील मंत्री ने भिलाई संयंत्र के विस्तारीकरण और देशभर में स्टील उद्योग की कायापलट के लिए प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों को मुख्य रूप से जिम्मेदार बताया.

उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां स्टील के आयात पर 40 फ़ीसदी तक अंकुश लगा है वहीं स्टील के उत्पादन में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है. 2014 में जब प्रधानमंत्री मोदी ने अपना कार्यभार संभाला था तब.

भारत दुनिया का चौथा बड़ा स्टील उत्पादक देश था लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने मेक इन इंडिया का .प्रोग्राम चलाकर देश के उद्योगों को एक नई दिशा दे दी पहले हम ने अमेरिका को पछाड़कर दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टील उत्पादक देश बने और फिर जापान को पछाड़कर आज हम दुनिया के दूसरे सबसे बड़े स्टील उत्पादक देश बन गए हैं.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने भी प्रधानमंत्री की भूरि-भूरि प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि जब भी प्रधानमंत्री के पास विकास की कोई योजना लेकर जाता हूं उसकी स्वीकृति तुरंत मिल जाती है.

रमन सिंह ने कांग्रेस के पिछली सरकारों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि देशभर में सबसे ज्यादा आईआईटी में प्रवेश पाने वाले दुर्गापुर और भिलाई के बच्चों के लिए आईआईटी की मांग वह पिछले 10 वर्षों से करते आ रहे हैं, लेकिन तब की कांग्रेस की सरकार ने हमारी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया, लेकिन जैसे ही हमने प्रधानमंत्री मोदी के समक्ष भिलाई में IIT की स्थापना की बात रखी प्रधानमंत्री ने स्वयं कहा कि जाओ और घोषणा कर दो.

मोदी ने भी भिलाई में IIT की स्थापना के लिए 400 करोड रुपए की मंजूरी देने की घोषणा के साथ यह कहा कि स्कील की इंडिया की जरूरत है कि कि यहां IIT की स्थापना हो.

रमन सिंह ने मंत्री मोदी को आधुनिक भारत का निर्माता कहा. 12 मई से 12 जून तक प्रदेश के लिए विकास यात्रा के समापन के समारोह क्व रमन सिंह ने तीर्थ यात्रा की संज्ञा दी, उन्होंने कहा कि उनकी यात्रा से जनता और सरकार दोनों में विश्वास जगह है और यह विकास के लिए अद्भुत संकल्प सिद्ध होगा.

विक्रम उपाध्याय बिग वायर हिंदी के संपादक हैं